Home / Bhabhi / नयी नवेली चुड़क्कड़ भाभी देवर से चुदने को बेताब हो गयी

नयी नवेली चुड़क्कड़ भाभी देवर से चुदने को बेताब हो गयी

xxx story यह चुदाई स्टोरी आज से दो साल पहले की हे जब मेरी भाई और भाभी की नयी नयी शादी हुई थी भाभी बहोत ही हॉट थी और उसका नाम अनु था. शादी के बाद वो घर आये और में रोज रात को उनके रूम के बहार जा के उनकी चुदाई की आवाजे सुनता था. भाभी हमेशा और जोर जोर से करो और जोर जोर से करो प्लीज़ और करो मुझे  कहती थी. पर हमेशा उनका सेक्स सिर्फ १५-२० मिनिट का ही होता था..

और सुबह भाभी हमेशा ऑफ़ मुड में रहती थी. एक महीने के बाद जब मेरा भाई बहार चला गया कंपनी टूर पर १० दिनों के लिए और फिर भाभी सारा दिन रूम में एकदम अकेले ही रहती थी. मेरा और मेरे भाई का रूम फर्स्ट फ्लोर पे था और मम्मी पप्पा का ग्राउंड फ्लोर पे था. पापा सवेरे सवेरे काम पे चले जाते थे और रात को वापस आते हे. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम एक दिन में रात का खाना खाने के बाद भाभी के रूम में गया और मैने देखा की  वह ब्लेक कलर का गाउन पहन कर लेटी हुई थी. में उन्हें आवाज दी  और  वह डर गयी और फिर मुझे अंदर आने को कहा और फिर हम दोनो साथ में  बैठ कर बाते करने लगे. पहले तो हम लोग यहां वहा की बाते करते थे पर उसके बाद वह थोड़ी फ्री हुई तो हम एक दुसरे के साथ हसी मजाक करने लगे. फिर अचानक मुजे भाभी ने पूछा की तुम्हारी पढ़ाई केसे चल रही हे तो मैने कहा की भाभी बहोत ही अच्छी चल रही हे. फिर मेरी भाभी ने हस्ते हुए मेरे आँखों में देख के कहा की तुम्हारी कोई गर्ल फ्रेंड हे की नहीं. तो मैने कहा की हां भाभी मेरी गर्ल फ्रेंड हे. तो उसने कहा

भाभी : कितने टाइम से हे?

loading...

में : दो साल से हे.

वह : इतने टाइम से हे? तो उसके साथ ही शादी कर लोगे क्या तुम?

में : मैने कहा की अभी मैने सोचा नहीं हे.

वह : और वह क्या बोलती हे?

में : उसने आज तक इस बारे में कभी कोई बात नहीं की हे. हम लोग बस साथ में घूमते हे और मस्ती करते हे.

वह : मस्ती मतलब?

में : क्या भाभी आप तो सब जानती हे ना?

फिर हम ऐसे ही थोड़ी देर बाते करने लगे और में उसे मेरे कोलेज की बाते बताने लगा और फिर मैने कहा की अब मुझे मैरे कमरे में जाना चाहिए क्योंकि मेरी गर्ल फ्रेंड की कोल आने का टाइम हो गया हे, और में वहा से निकल कर मैरे रूम में आ गया. और फिर में अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ मस्ती से फोन सेक्स करने लगा और फिर मैने मुठ मारी और में सो गया.

दुसरे दिन भाभी मुझे बहोत ही अजीब नजरो से देख रही थी और वह दिन भर मेरी तरफ घुर घुर के देखती रही और ऐसे ही पूरा दिन निकल गया. में सोच रहा था की ऐसा क्या हो गया की भाभी मुझे एक अजीब नजर से देखने लगी हे लेकिन मेरी समज में कुछ भी नहीं आ रहा था. और फिर में उसके साथ बात करने के लिए उनके कमरे में गया. तब उन्होंने सिर्फ स्लिप पहनी हुई थी. मैने उसको कहा की सोरी भाभी तो उन्होंने कहा कोई बात नहीं हे तुम अंदर आ सकते हो. फिर में धीरे धीरे उसके रूम में अंदर गया और फिर उसने मुझे बेठने को कहा और में भी बेठ गया. वह मेरे सामने सिर्फ स्लिप पहन कर बैठी हुई थी. और तब मैने शोर्टस पहन रखी थी और अब उसको इन कम कपड़ो में देख के मेरा लंड अब खड़ा होते लगा था और वह मेरे शोर्ट के बहार से खड़ा हुआ दिखने लगा था और वह उसने भी साफ साफ देख लिया और उसे भी पता चल गया की में गर्म होने लगा हु.

भाभी : और बताओ देवरजी तुम्हारी गर्ल फ्रेंड क्या कहती हे?

में : हां भाभी वह तो एकदम मजे कर रही हे.

वह : तुम रोज रात को उसके साथ बाते करते हो?

में : हां भाभी, वह मुझे बात किये बिना सोने ही नहीं देती हे.

भाभी : और क्या क्या करते हो?

में : बस और कुछ भी नहीं करते हे.

वह : कल मैने दरवाजे के बहार से तुम्हारी बात सुनी थी.

में : चोंक गया, आप ऐसा केसे कर सकती हो.

तो मेरी  भाभी ने कहा की मैने ऐसे कहा तो क्या हुआ अब हम दोनों दोस्त बन गए हे ना? अब तुम मुझे  यह बताओ तुम्हारी गर्लफ्रेंड कैसी दिखती है उसकी फोटो दिखाओ मुझे जरा में भी देखू के मेरे प्यारे देवरजी किस लड़की के जाल में फस गये हे और वह भी पुरे दो साल से. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

मैंने मोबाइल निकाला और उन्हें अपनी गर्ल फ्रेंड की  फोटो दिखाने लगा उन्होंने फोटो देखा और फिर कहा अच्छी है पर मुझ से नहीं फिर उन्होंने अगला फोटो देखा तो  उसमें हम लोग स्मूच कर रहे थे. वह देख कर हंसने लगी और कहां अच्छा है फिर मैने उनसे मेरा मोबाइल ले लिया और मेरी जेब में रख दिया.

बाद में भाभी ने मेरी तरफ हसके देखा और कहा :  तुम्हारी गर्लफ्रेंड ज्यादा अच्छी है या मैं?

मैंने कहा आपके सामने वह कुछ भी नहीं हे भाभी.

भाभी ने कहा हां वह तो मैं देख रही हूं जब से तुम आये हो. और उन्होंने मेरे टेंट की तरफ इशारा किया और में शरमा गया.

भाभी बोली शरमा क्यों रहे हो देवर जी अपनी भाभी के साथ थी वैसे बात कर सकते हो जैसे कल अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कर रहे थे.

यह कहते ही उन्होंने मुझे पकड़ा और मुझे किस करना स्टार्ट कर दिया और में भी  पागलों की तरह उन्हें किस करने लगा. कभी वह मेरी जीभ अपने मुह में लेकर चुस्ती तो कभी में उनकी जीभ अपने मुह में लेकर उसे सहलाता था. भाभी की गर्म सांसे में अपने मुह पर महसूस कर रहा था और में आपको बता नहीं सकता की मुझे कितना मजा आ रहा था. 15 मिनट के किस के बाद मैंने उनकी स्लिप को उतार दी उन्होंने अंदर कुछ भी नहीं पहना था ना ब्रा पहनी थी और ना पैंटी पहनी थी. वह मेरे सामने पूरी नंगी खड़ी थी. उन्होंने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और 69 पोजीशन में आ गए. अब में उनकी चूत को अपनी जीभ से मस्त चाट रहा था और वह मेरा लंड चूस रही थी. वह 20 मिनट में दो बार झड़ चुकी थी और मैंने उनके मुंह में अपना माल गिरा दिया, वह सारा का सारा माल पी गई.

भाभी ने मुझे  कहा तुम्हारा लंड तो तुम्हारे भाई से भी बड़ा है और ज्यादा टाइम तक भी  चलता है. यह कह कर वह फिर मेरे लंड को चूसने लगी और 5 मिनट में मेरा लंड तैयार हो गया. भाभी ने कहा की बढ़िया हे देवर जी अब जल्दी से मेरी चूत की प्यास को बुझा दो. चोद दो अपनी रंडी भाभी को और तुम्हारा भाई आज तक मेरी चूत को खुश नहीं कर पाया. मैंने भाभी के पैर अपने कंधो पर रखे और एक ही झटके में अपना पूरा लंड उनकी चूत में घुसा दिया वह रो पड़ी और मुझे कस के पकड़ लिया कुछ देर बाद वह साथ देने लगी और आवाजे निकालने लगी.

और चोदो  अपनी रंडी भाभी को और जोर से करो आहाह हह्ह्ह रखेल बना दो अपनी देवर जी, मैं अब तुम्हारी हूं.

loading...

और 20 मिनट चोदने के बाद मेरा होने वाला था मैंने कहा की भाभी मेरा होने वाला है, उन्होंने कहा अंदर ही गिरा दो, बना लो इस रंडी को अपने बच्चे की मां देवर जी, और वह तब तक दो बार झड़ चुकी थी और मैंने भी अपना सारा माल अंदर ही गिरा दिया. वह पूरी तरह से खुश हो गई और कहा आज जन्नत का मजा आया देवर जी रोज इसी तरह इस रंडी की प्यास बुझाने आना. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम  फिर हम दोनों नंगे ही चिपक के सो गए. फिर सुबह 4:00 बजे मुझे कुछ अजीब लगा मैंने देखा कि भाभी मेरा लंड चूस रही थी. उस वक्त मुझे लगा कि मैं आसमान में उड़ रहा हूं और कोई परी मेरा लंड चूस रही है. जब मेरा पूरा खड़ा हो गया तब भाभी ने कहा देवरजी क्या इरादा है? मैंने कहा था कि मैं आपकी गांड मारना चाहता हूं. उन्होंने कहा मैं भी तुम्हारा लंड हर जगह डलवाना चाहती हूं. उन्होंने  यह कह कर वह बाथरुम से तेल लेकर आई और अपनी गांड में लगाने लगी और फिर मेरे लंड पर तेल लगाने लगी और फिर उन्होंने गांड मेरी तरफ की और बोली लो मार लो अपनी भाभी की गांड.

फिर में धीरे धीरे उनकी गांड में लंड डालने लगा और उन्हें काफी दर्द हो रहा था फिर और उनकी गांड से खून निकल रहा था फिर कुछ ही देर में मेरा पूरा लंड की गांड में गायब हो गया और वह मजे से चुदने लगी मारो अहहह अह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह्ह और मारो रंडी की गांड और बहुत मजा आ रहा है

मैं तो अपनी रंडी की गांड मार रहा हूं. हां मैं तुम्हारी रंडी  ही हु. मुझे तुम रंडी ही  बोलो. और रोज मारा करो मेरी गांड. 20 मिनट के बाद उनकी गांड में जड गया और जैसे ही मैंने लंड बाहर निकाला उन्होंने मेरा लंड मुंह में ले लिया और फिर हम साथ में नहाने चले गए. जहां उन्होंने मुझे अपने ऊपर मुतने को कहा मैंने किया. फिर मैं अपने रूम में आकर सो गया. और जब तक भैया आते मैंने भाभी को 10 दिन में 30 बार चोदा. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story