Home / Hindi / कमरा देखने आयी औरत को पीछे से पकड़ कर चोद लिया

कमरा देखने आयी औरत को पीछे से पकड़ कर चोद लिया

हेलो दोस्तों मेरा नाम हरी है. और मेरी उम्र 23 साल है. मैं राजस्थान से हूं. यह मेरी इस साइट पर पहली चुदाई की स्टोरी है. प्लीज आप मुझे इसे पढ़कर जरूर बताइएगा की आपको यह कैसी लगी. तो चलिए देर ना करते हुए कहानी की शुरुआत करते हैं. यह कहानी मेरी और एक अजनबी आंटी की है.

यह बात तब की है मेरी इंजीनियरिंग पूरी हो गई थी और मैं अपना रूम शिफ्ट कर रहा था. एक दिन मैं शाम को बाहर से चाय पीकर रूम पर आया तो पीछे से मुझे आवाज आई कि यह  १bhk है या २bhk हे. तो मैंने नीचे देखा तो एक बहुत सुंदर लेडी खड़ी थी. उनका नाम आयशा था. उनकी उमर ३६ साल की थी. और उसका फिगर ३८-३४-४० था  और वह मुझे पूछ रही थी यह रूम कैसा है. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम मैं तो उसे देखता ही रह गया. वह इतनी सुंदर और सेक्सी थी कि उसको देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए. फिर उसने कहा कि मैं तुमसे ही पूछ रही हूं. फिर मैंने बोला यह  टू बीएचके है और यह फर्स्ट फ्लोर पर है. तो वह मेरे पीछे से ही ऊपर आ गई और उपर आकर रूम देखने लगी. दोस्तों क्या बोलूं उस के बारे में बहुत ही मस्त थी. और उस टाइम मैं रुम में अकेला ही था मेरा रूम मेट उसके घर पर गया हुआ था. तो मैं यह सोचने लगा कि काश मुझे भी यह मिल जाए… उसकी गांड तो बहुत ही मस्त थी.

मैं तो खयालों में खो गया तभी वह बोली कि मैं यहां बैठ सकती हूं? तो  मैं खुश हुआ और बोला मैंने कहा आप जरूर बैठिए. फिर मैं रुम में से चेयर लाकर उनके पास रख दी और मैं उसके सामने खड़ा हो गया और वह चेयर पर बैठ गई और मैं उसे घुरने लग गया.

loading...

फिर हम दोनों में बात शुरू हो गई. वह रूम के बारे में पूछने लगी और मैं बताता रहा. फिर अचानक वह खड़ी हुई और रसोई में गई तो पीछे से मैं भी चला गया और उसकी गांड को घूरने लग गया. फिर उसने कुछ पूछा तो मैंने बोल दिया फिर वह अचानक रुक गई और पीछे पलटी तो मैं उस से टकराकर नीचे गिर गया क्योंकि मैं तो उसके ख्यालों में खोया हुआ था और मेरे दिमाग ने काम करना भी बंद कर दिया था. उसकी सुन्दरता को देख कर मेरा तो दिमाग भी काम करना बंद कर दिया था.

फिर उसने सॉरी बोल कर मुझे उठाया तो उठाते टाइम उसकी बूब्स की क्लीवेज मुझे साफ दिखाई दी. उसने सूट पहना हुआ था. दोस्तों सूट में वह परी की तरह लग रही थी, तो उसने मुझे उसके बूब्स को देखते हुए नोटिस कर लिया था और मुझे एक नोटी वाली स्माइल दे  दी.

पहले तो मैं डर रहा था लेकिन उसकी स्माइल के बाद में थोड़ा खुश हो गया.

फिर उसने रसोई देखी और चेयर पर जाकर बैठ गई और मैं फिर से उसे घूरने लग गया और इस बार वह यह नोटिस कर रही थी और मेरा लंड एकदम टाइट हो गया था. तो पेंट से साफ दिख रहा था. तभी वह दूसरा रूम देखने के लिए खड़ी हुई.

फिर मैं उसके साथ चला गया और इस बार में उससे चिपक कर खड़ा था और वह रूम देख रही थी. जब उसको यह पता चला कि मैं उसके पीछे खड़ा हूं  तो वह जानबूझकर मेरी तरफ पीछे खिसक गई.

दोस्तों तब उसकी गांड मेरे लंड को टच करने लगी दोस्तों क्या बताऊं मेरी हालत बहुत खराब होती जा रही थी. उसकी गांड बहुत मस्त थी. जैसे उसे फिल हुआ कि उसकी गांड मुझसे टच हो गई है, वह अपनी गांड मुझे रगड़ने लगी. मेरा लंड ज्यादा टाइट हो गया था और सामने मिरर लगा हुआ था तो वह  मुझे उसमे से देख रही थी और मैं आउट ऑफ कंट्रोल हो रहा था.

फिर वह बोली कि यहां कितने लोग रहते हैं? तो मैंने बोला अभी तो मैं ही हूं. मेरा रूम मेट घर पर गया हुआ है. तो वह वापस हॉल में चेयर पर आकर बैठ गई मैं इस बार मैं उसको बिल्कुल बाजू में खड़ा हो गया और उसे घूरने लग गया. और प्लान करने लगा कैसे चुदाई की  जाए? तभी उसने अचानक मेरे पैंट की तरफ उंगली करते हुए कहा कि यह क्या हो रहा है? यह देख कर मैं थोड़ा डर गया लेकिन तभी में बिना कुछ सोचे उसे वही चेयर पर ही  किस करने लग गया. पहले तो उसने एक बार हटाने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा. और फिर वह भी साथ देने लगी फिर मैं उसके बूब्स की प्रेस करने लग गया.

फिर क्या था अब वह आह्ह ओह्ह ह्ह्ह ओह्ह्ह उम्म्म ओह्ह्ह ओम्म्म्म उह्ह्ह अह्ह्ह इम्म्म की आवाज करने लग गई और मेरे लंड को  ऊपर से मसलने लग गई.

फिर मैं उससे रूम में बेड़ पर लेकर आया और किस करने लग गया. और में उसके बूब्स भी प्रेस कर रहा था. 5 मिनट बाद उसने मेरी टी शर्ट उतार दी और मैंने उसका कुर्ता. यारों क्या बताऊं उसके बोल बहुत मस्त थे एकदम दूध की तरफ सफेद और लग रहा था कि मानो ब्रा को फाड़कर अभी बाहर आ जाएंगे. मुझसे रहा नहीं गया और मैं उसकी ब्रा को उतार कर बूब्स को चूसने लग गया. उसकी सांसे तेज हो गई तो वह आवाज निकालने लगी और बोली की जोर से चूसो बीबी और जोर से चुसो मेरा सारा रस निकाल दो. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम फिर में दस मिनट तक मैं उसके बूब्स को चूसता रहा फिर मैंने उसकी सलवार का नाडा खोला और मैं देखता ही रह गया. उसकी पैंटी लाल कलर की थी उसमें से चूत क्या दिख रही थी? मैं बता नहीं सकता, मुझसे रुका नहीं गया और मैं पेंटी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा और वह सिसकियां भरने लग गई.

फिर मैंने उसकी पैंटी उतारी और बिना देर किए उसकी चूत पर टूट पड़ा और चूत को चाटने लग गया और वह आवाज निकालने लगी और अब कितना तड़पाओगे. मैं 10 मिनट तक उसकी चूत चाटता रहा और वह जड गयी और में उसका सारा रस पी गया और मैंने मेरा पेंट खोला और लंड उसके मुंह पर रख दिया.

पहले तो वह मना कर रही थी बाद में वह मान गई और मैंने लंड को मुंह में लेकर चूसने लगा गई. यारों क्या बताऊं ऐसा लग रहा था मानो जैसे मैं स्वर्ग में हूं. वह लंड को लॉलीपॉप की तरह मदहोश होकर चूस रही थी और थोड़ी देर बाद वह बोली अब मुझे कंट्रोल नहीं हो रहा. चूत में डाल दें तो मैंने उसे बिस्तर में सोने को कहा और फिर लंड को चूत में जेसे ही टच किया वह आवाज निकालने लग गई तब मैंने लंड को रगड़ कर उसे और तड़पाने लगा.

फिर वह बोली कि अब डाल भी दो अब मुझ से नहीं रुका जा रहा है तब मैंने चूत पर लंड को रखा और एक धक्का तो मेरा लंड आधा ही गया था और वह जोर से चिल्लाने लग गई. और मैंने उसके मुंह पर अपना मुंह लगाकर किस करके उसे शांत किया और फिर एक जोरदार का धक्का लगाया और मेरा लंड पूरा अंदर चला गया. और वह चिल्लाने लगी तब मैंने लंड को आगे पीछे करने लगा. पर फिर वह शांत होकर अपनी गांड को आगे पीछे कर के चुदवाने लगी. पूरे रूम में फट फट फट फट जोर से बेबी और जोर से करो बेबी की आवाज होने लगी और मैं स्पीड बढ़ाता गया.

वह अहह ओह्ह अह्ह्ह ओह्ह येस्स अह्ह्ह येस्स जोर से फाड़ दे आज मेरी चूत इतना अच्छा लंड नहीं मिला इसे अभी तक. बुझा दे आज इसकी प्यास फाड़ दे चूत को.

20 मिनट तक मैं उसे चोदता रहा, तब तक वह दो बार झड़ गई और लास्ट में उसकी चूत में जड गया. और मैं उसके ऊपर ऐसे ही सो गया. 15 मिनट बाद उसके बूब्स को फिर से चूसने लगा और फिर से मेरा लंड टाइट हो गया तो मैंने कहा मुझे इस बार गांड में डालना है.

तो उसने मना कर दिया. मैंने प्लीज़ बोला तो बोली कि बहुत दर्द होगा मैंने बोला कि नहीं मैं आराम से डालूंगा. तब रेडी हो गई फिर मैंने तेल लाया और उससे कहा कि लंड पर मालिश करो फिर वह करने लगी फिर  टेबल पर उसे सुलाया और पीछे गांड में लंड को टच किया तभी बोली नहीं जाएगा दर्द होगा. मैंने कहा ट्राय तो करने दो. फिर मैंने और तेल लगा कर लंड को गांड पर रखा और एक धक्का मारा मेरा लंड का सुपाडा ही उसकी गांड में घुस गया  और वह तिलमिला उठी और बोली चूतिये बहुत दर्द हो रहा है निकाल इसे बाहर.

loading...

मैं वही रुक गया और उसे किस करने लग गया फिर अचानक जोर से धक्का मार दिया और इस बार पूरा लंड अंदर चला गया, और वह जोर से चीख पड़ी. और उसके आंख से आंसू निकलने लगे, यह सब देख कर रुका नहीं बल्कि और जोर से अंदर बाहर करने लगा. तब वह धीरे धीरे शांत होती गई. और मजे से गांड मरवाने लगी. फिर मैं 25 मिनट तक उसकी गांड मारता रहा और गांड में ही झड़ गया. और मैं फिर से उसके ऊपर ही लेट गया. थोड़ी देर बाद वह बोली कि आज मुझे चुदवाने में बहुत मजा आया. अब जब भी मैं फ्री होंगी तो तुम्ही से चुदावाउंगी. और फिर वह बोली कि अब मुझे जाना है काफी देर हो गई और मेरा मोबाइल नंबर लेकर वह चली गई.. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

फिर मैंने उसे काफी बार चोदा उसके घर जाके चोदा लेकिन अब मैं बेंगलुर से आ गया लेकिन हमारी फोन पर अब भी बात होती है. पर मैं जब भी बेंगलुरु जाता हूं तब उसे चोद कर आता हूं.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story