Home / Bahen / बहन अपनी गांड हीलाते हुए बोली राहुल और तेज धक्के मार

बहन अपनी गांड हीलाते हुए बोली राहुल और तेज धक्के मार

हेलो दोस्तों, मेरा नाम राहुल है. मैं लखनऊ का रहने वाला हूं. मेरी फैमिली में मैं, मेरी सिस्टर जिसका नाम खुशी है, मेरे भैया जो मुझ से ५ साल बड़े हैं, जो भाभी के साथ कानपुर में रहते हैं और मेरे पापा रहते हैं. मैं और मेरी सिस्टर एक ही पढ़ते हैं

मेरी सिस्टर अपनी उम्र से थोड़ी ज्यादा बड़ी दिखती है, उस के बड़े बड़े बूब्स हैं और वह एकदम गोरी चिट्टी सी है, उसका फिगर २६-३२-२६ है. यह घटना २४ जुलाई २०१२ की है.

loading...

मेरे डैड ऑफिस के लिए ९ बजे घर से निकल गए. हम दोनों भाई बहन को उस दिन १० बजे  निकलना था. अभी हम घर से कुछ ही दूर निकले थे कि काफी तेज बारिश शुरु हो गई, और इस के पहले कि हम बारिश से बचने के लिए किसी शॉप पर पहुंचते हम पूरी तरह से भीग चुके थे.

मेरी सिस्टर वाइट कलर की शर्ट पहनी हुई थी, जिस में से उस का ब्लैक ब्रा बिल्कुल साफ साफ दिख रहा था, लेकिन उस ने नहीं नोटिस किया तो मैंने कहा कि अब शॉप पर नहीं रुकते हैं, और हम घर वापस चलते हैं. फिर हम दोनों वापस घर आ गए और स्कूल जाने का प्लान कैंसिल कर दिया.

उस दिन की पहली बारिश थी तो इन्फेक्शन से बचने के लिए नहाना जरुरी था. मैं और मेरी सिस्टर एक ही रूम शेयर करते हैं, तो उसने मुझे कहा कि तुम बाहर वाले बाथ रूम में जाओ. मैं यहां नहाऊंगी. मैं बाहर वाले बाथरूम में नहाने चला गया.

मेरी सिस्टर ने नहाने के बाद गाउन पहन रखा था. क्योंकि अब वह आराम करने जा रही थी और मैंने स्वीट पेंट पहन लिया था, फिर वह लेट गई तो में भी जाकर उस के  बगल में लेट गया. तब मेरी सिस्टर ने मुझ से हसते हुए पूछा तुम ने मुझे शॉप पर क्यों नहीं रूकने दिया?

मैंने कहा : ऐसा ही, मुझे अच्छा नहीं लग रहा था खुद के अंडर गारमेंट दिख रहे थे.

खुशी ने कहा : ह्म्म्म.

खुशी मेरे पांव पर अपने पाँव रखते हुए बोली : गिव मी अ हग.

मैंने हग किया तो मुझे महसूस हुआ कि खुशी ने अंदर ब्रा पहनी नहीं थी, वह अपने बूब्स को मेरे चेस्ट के अगेंस्ट दबा रही थी.

मैंने कहा : आर यु ओके खुशी?

उस ने कहा : येस ब्रदर एंड आई लव यू ब्रदर.

मैंने कहा : आई लव यू टू सिस्टर,

फिर कुछ देर खुशी एकदम से एक्टिव हो गई और मुझे पिलो से मारने लगी. बचपन में हम भाई बहन भी पिलो फाइट और रेसलिंग करते थे, उस ने कहा की आज रेसलिंग करते हैं.

फिर हम लोग रेसिंग करने लगे, तो मेने उसे पीछे से पकड़ा सीधा करने के लिए तो उस के बूब्स मेरे हाथों में आ गये. वैसे तो यह हमेशा होता होगा लेकिन मैं पहली बार नोटिस किया उस के बूब्स बहुत ही सॉफ्ट थे मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

तो मैं बूब्स पर पकड़ बनाते हुए उसे पलटने की कोशिश करने लगा. लेकिन उसने मेरे कान पकड़ लिए. मैं छोड़ना नहीं चाहता था उसके बूब्स को, इसलिए मैं उस के बेक पर ही लेट गया. अब तक मैं भी होर्नी हो गया था तो मेरा पेनिस इरेक्ट हो गया था जो उस की गांड में चुभ रहा था.

मैं उसके बूब्स को धीरे धीरे दबाने लगा जैसे मैं उसे पलटने की कोशिश कर रहा हूं और इसी के साथ मेरा लंड भी टाइट होता जा रहा था. मेरी बहन धीरे से मेरे हाथ को ऊपर कीया और सरकाने के बहाने अपने गांउन को ऊपर सरकाने लगी.

वह बार बार अपने बूब्स से मेरा हाथ ऊपर की और सरकाती और में बार बार उस के बूब्स को पकड़ लेता था. ऐसा करते करते गाउन उस के बूब्स से भी ऊपर आ गया. फिर जब मैंने नेक्स्ट टाइम जैसे ही अपना हाथ उसके ऊपर रखा मुझे महसूस हुआ कि गाउन सब पूरा ऊपर चला गया है.

मेरी सिस्टर ने कहा बोला कि पहले जाओ दरवाजा बंद कर दो और कोई अच्छा सा गाना चला दो, फिर दोबारा रेसलिंग स्टार्ट करते हैं. मैं गया और दरवाजा बंद करने के बाद रोमांटिक सॉन्ग सिलेक्ट करके प्ले कर दिया. तब तक मेरी सिस्टर वापस गाउन पहन चुकी थी.

मैंने सोचा कि जो हुआ वह शायद मेरी सिस्टर ने नोटिस नहीं किया, तो फिर मैं उस को सीधा पटक कर उस के ऊपर चढ़ने की कोशिश किया, काउंटडाउन के लिए, लेकिन खुशी उल्टा पलट गई, इस बार मैं जानबूझकर उसके चूतड़ों के बीच में अपना लंड फंसा दिया और उसके बूब्स को फिर से दबाने लगा, जैसे उसे सीधा करने की कोशिश कर रहा हूं.

मेरा लंड बहुत हार्ड हो गया था उसने धीरे से गाउन हटा दिया. मेरे लंड और उस की गांड के बीच में सिर्फ मेरा स्वीट पेंट और अंडरवियर और उसकी पैंटी थी. अब वह सीधा होते हुए अपने गाउन को ऊपर कर दिया और मुझे अपने पैरों के बीच में पकड़ लिया. मेरा लंड ईतना टाइट हो गया था जैसे उस की पैंटी को फाड़कर उसकी चूत फाड़ देगा.

खुशी ने कहा : तुम अपना स्वीट पेंट उतार दो.

मैंने स्वीट पेंट उतारते हुए ओके कहा और इसी बीच खुशी ने अपनी पेंटी का स्ट्रिप लूज कर दिया, और पैर खोल के लेट गई. मैं उसके पैरों के बीच में जाकर के फिक्स हो गया, अब मेरा लंड उसकी चूत को टच कर रहा था.

खुशी में अपने पैरो को मेरी कमर में फसाते हुए मेरे अंडरवियर को नीचे सरका दिया अब मेरा खड़ा लंड बाहर था. मैं लंड को ख़ुशी की चूत के ऊपर रगड़ने लगा. खुशी ने मुझे अपनी आगोश में ले लिया था और मैं भी उससे लिपट गया था.

वह मेरे कानों पर किस करने लगी और मैं उसके नेक पर. फिर मैं उस के बूब्स दबाने लगा तब ख़ुशी बोली कि इसको चूसो तो में उस के बूब्स को चूसने लगा, खुशी मोन करने लगी, फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए, मैं उसकी चूत को चाटने लगा और वह मेरे लंड को चूसने लगी.

मैंने नोटिस किया कि हम दोनों ने कुछ दिन पहले ही शेविंग किया है. अब मैं बेड से नीचे उतर कर उसकी चूत को चाटने लगा, खुशी को टंग फक देने लगा, सब वह  बहुत उत्तेजित हो गई और बहुत तेज मोन करने लगी, इसलिए मैंने म्यूजिक की वॉल्यूम और थोड़ी बढ़ा दी.

मैं १० मिनट तक उसे अपनी जीभ से चोदता रहा फिर वह मेरे लंड को मुंह में ले कर बड़े प्यार से ब्लोजोब देने लगी. मैं तो आसमान में उड़ रहा था और मुझे स्वर्ग सा सुख मिल रहा था. मैं अभी थोड़ी देर में जडने वाला था इसीलिए मैंने उस के मुंह से अपना लंड निकाल लिया और पास पड़े टावेल पर अपना सारा माल निकाल लिया.

फिर हम दोनों नंगे ही बेड पर लेट गये में उस की बुर को सहलाने लगा और फिर  फिंगर फक देने लगा. वह भी मेरे लंड को अपने हाथ से हिला कर मेरे लंड में जान डालने की कोशिश कर रही थी. कुछ देर बाद मेरा लंड फिर खड़ा हो गया उसकी चूत को फाड़ने के लिए.

खुशी भी अब तक एकदम गरम हो चुकी थी मैंने अपना लंड उसकी बुर पर रखा और अंदर डालने के लिए जोर लगाया तो मेरा लंड फिसल गया. इसलिए मैंने उस की बुर को चूसने के बहाने उसकी चूत पर थूक लगा दिया, खुशी ने भी मेरे लंड पर थूक लगा दिया. अब लंड और चूत दोनों एकदम चिकने हो गए थे.

अब मैं उसकी चूत के छेद पर लंड रखकर धीरे से धक्का लगाया तो मेरे लंड का टोपा उसकी बुर को चीरते हुए अंदर चला गया और उसी के साथ ख़ुशी की आंखों से आंसू आ गए और वो दर्द भरी आवाज में बोली भाई निकाल दो वरना मैं मर जाऊंगी.

मैंने कहा जान थोड़ी देर बर्दाश्त कर लो अभी मजा आएगा.

और फिर मैं उस के गालों पर किस करने लगा, एक हाथ से उस के बूब्स को दबाने लगा और एक हाथ से धीरे धीरे अपने लंड को और अंदर डालता गया. कुछ देर में मेरा पूरा ६ इंच का लंड उसकी चूत के आगोश में था.

मैं अभी धीरे धीरे उपर निचे कर के उसे पेलने लगा तो खुशी दर्द और मजा दोनों में मोन करने लगी. कुछ देर ऐसे ही चलता रहा फिर खुशी को मजा आने लगा.

खुशी अपनी गांड हीलाते हुए बोली की राहुल और तेज धक्के मार..

loading...

मैं स्पीड बढ़ाते हुए कहा आज में तेरी चूत को फाड़ दूंगा आज तेरी बुर को फाड़ कर भरता बना दूंगा.

खुशी ने कहा : ह्म्म्म फाड़ दे राहुल चोद मुझे एस फक मी बेबी. और जोर से चोद मुझे.

मैने अब उसे गोद में उठाया तो उसने अपने पैरों को मेरे कमर के साइड में बांध लिया, फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर लगाकर उसको नीचे की तरफ थोड़ा सरकाया तो मेरा पूरा लंड उसकी बुर में घुस गया.

फिर मैंने उसकी बुर को १५ मिनट तक चोदता रहा और फिर १५ मिनट बाद परम आनंद आया. मैंने बोला कि मैं झड़ने वाला हूं तो खुशी ने बोला कि अंदर ही निकाल दो भाई. मैं उसके बुर के अंदर ही निकाल लिया, फीर म्युजीक बंद करके हम दोनों नंगे एक दूसरे को बाहों में लेकर सो गए.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story