Home / Rishton Me Chudai / मौसी ने मुझे मुठ मारते पकड़ा

मौसी ने मुझे मुठ मारते पकड़ा

मेरा नाम राहुल है, मेरी एक बहुत सेक्सी मौसी है जिसका मैं बचपन से दीवाना हूँ। मेरी उम्र 18 साल है और मेरी मौसी 27 साल की है, मौसी दिखने में बहोत खूबसूरत है वो थोड़ी मोटी है लेकिन मस्त माल लगती है, उसके बूब्स बड़े बड़े है जिसे देख कर कोई भी चूसना चाहेगा। मौसी की अभी तक शादी नहीं हुई है क्यों की वो मांगलिक है और उसके लिए लड़का नहीं मिल रहा है। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। 
अब मैं आप को मेरे परिवार के बारे में बता दू, मेरे घर में 5 लोग है माँ, पापा, दीदी, दादी और मैं हम लोग इंदौर के रहने वाले है मेरे पापा की मोबाइल शॉप है, माँ हाउसवाइफ है दीदी 21 साल की है और अभी वो मेरे अंकल के घर रह कर आगे की पढाई भोपाल से कर रही है, मेरी बूढी दादी जो बीमार रहती है जिसे देखने के लिए मेरी मौसी घर आयी हुई थी।

जैसा की मैं आप को पहले ही बता चूका हु मैं बचपन से ही मौसी का दीवाना हु, जब मैं 14 साल का था तब मौसी हमारे घर आयी हुई थी और मैं उसको गलती से कपडे बदलते देख डाला था और उसकी नंगी सेक्सी बॉडी देख कर पागल हो गया था। मौसी माँ के कमरे में बिना दरवाजा बंद किये कपडे बदल रही थी और मैं अचनाक पहुंच गया और वो मुझे देख कर घबरा गयी लेकिन उस समय मैं छोटा था इसलिए उसने मुझे डांटा नहीं और वहां से जाने को कही मैं अपने रूम में आ गया दोस्तों क्या मस्त माल थी मेरी मौसी उस टाइम बड़े बड़े बूब्स चूत में हलके बाल मोटी गांड, तब से आज तक मैं उसका वो नंगा शरीर भूला नहीं हूँ।

loading...

जैसा कि मैंने आप लोगों को बताया मौसी दादी को देखने घर आयी हुई थी और वो यहाँ पूरे एक हफ्ते रहने वाली थी, मौसी के आने से मैं बहोत खुश था क्योंकी मौसी 4 साल बाद हमारे घर आयी थी।
मैं एक बार फिर से मौसी का नंगा बदन देखना चाहता था जो मैंने 4 साल पहले देखा था।
दादी बीमार थी इसलिए माँ दादी के कमरे में सोती थी, पापा और मैं अपने – अपने कमरे में अकेले सोते थे। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। 
गेस्ट रूम का पलंग टूट गया था इसलिए माँ ने मौसी को मेरे कमरे में सोने को बोला था, मौसी सुबह 8 बजे घर आयी थी इसलिए वो आते ही नहाने चली गयी और मैं अपने पलंग के नीचे छुप गया मैं जानता था मौसी कमरे में आ कर कपड़े बदलेगी मैं वहा से उसको एक बार फिर नंगी देखना चाहता था।

मौसी नहा कर बाथरूम से बहार निकली और कमरे का दरवाजा लॉक कर के कपडे बदलने के लिए अपना टॉवल खोल दी, मैं निचे छुप कर देख रहा था मौसी दूसरी तरफ मुँह की हुई थी पीछे से उसकी गांड दिख रही थी मौसी पहले से मोटी और सेक्सी हो चुकी थी मौसी अब सीधा हो कर अपने बाल सुखाने लगी और मुझे उसके बड़े बड़े बूब्स और चूत के दर्सन हो गए। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। 
इस बार मौसी की चूत बिलकुल साफ़ और चिकनी थी सायद उसने कल ही साफ़ किया था, मौसी की चूत देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं धीरे धीरे लंड को मसलने लगा। अभी तक मौसी ने बाल सूखा लिया था अब वो छोटी और जाली वाली पेंटी और ब्रा पहन कर खड़ी थी और मेकअप कर रही थी। रेड कलर के ब्रा और पेंटी में मेरी मौसी बहोत खूबसूरत दिख रही थी मन हुआ जा कर उनको पीछे से पकड़ लूँ और चोद डालू लेकिन डर लग रहा था घर पर सब लोग थे और मौसी ने शोर मचा दिया तो मुझे बहोत मार पड़ेगी यही सोच कर मैं खुद को रोक लिया।

मौसी तैयार हो कर जैसे ही बहार निकली मैं भाग कर दादी के कमरे में चला गया। मौसी किचन में जा कर नास्ता बनाने में माँ की मदद करने लगी नास्ता रेडी होते ही हम सब ने साथ बैठ कर नास्ता किया।
पापा अपने शॉप चले गए और माँ अपने घर के काम में बिजी हो गयी मौसी दादी के कमरे में चली गयी और मैं अपने कॉलेज जाने के लिए तैयार होने गया, जब मैं रेडी हो रहा था तभी मैने देखा मौसी अपना मोबाइल वही भूल गयी थी मैंने मोबाइल चेक किया उसमे लॉक नहीं था मैं गैलरी ओपन किया और मुझे सब से पहले सेक्स वीडियो दिखा मैं समझ गया मौसी की शादी हुई नहीं है और उसको सेक्स की भूक लगी हुई है।

मैं उसका मोबाइल पूरा चेक किया और मुझे उसमे किसी भी लड़के के साथ मौसी की बात होते हुआ नहीं मिला मैं समझ गया मौसी का कोई बॉय फ्रेंड नहीं है और मैं उसका बॉय फ्रेंड बन सकता हु और उसकी चुदाई कर सकता हु लेकिन मैं उसको चुदाई के लिए कैसे मनाऊ यही सोचते हुआ मैं कॉलेज चला गया।
रात को हम लोगो ने खाना खाया आज मौसी मेरे लिए खीर बनाई थी उसको पता था मुझे खीर बहोत पसंद है, खाना होने के बाद मैं अपने कमरे में जा कर सो गया और मौसी माँ के साथ सास बहु का टीवी सीरियल देखने लगी मैं सोते हुए मौसी का इंतजार करता रहा और मुझे नींद कब आ गयी पता ही नहीं चला। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है

रात को मेरी नींद अचानक खुली और मैंने देखा मौसी अभी तक सोने नहीं आयी है और मैं उठ कर हाल की तरफ जैसे ही देखने जा रहा था मुझे बाथरूम से कुछ आवाज आती सुनाई दी।
मैं पास जा कर सुनने लगा ये आवाज मौसी की थी वो आह आह आह उह्ह ऐसे सिसकारियां भर रही थी मैं समझ गया वो चूत में ऊँगली कर रही है और मैं ये सब सुन कर गर्म हो चूका था मेरा लंड पूरा खड़ा हो चूका था और सलामी दे रहा था। मैंने अंदर दखने की बहोत कोशिस की लेकिन कही से देखने की कोई जगह नहीं थी, मैं वही पर खड़ा रहा जैसे ही आवाज आनी बंद हुई मैं बेड पर आ कर लेट गया और सोने का नाटक करने लगा।

loading...

दोस्तों आगे की कहानी के लिए अगले पार्ट का इन्तजार करें।

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story