Home / Girlfriend / मेरी दोस्त की चूत का रसपान किया

मेरी दोस्त की चूत का रसपान किया

sex kahani हेलो दोस्तों मैं अंकुश हूं, नाशिक से हूं. और मेरी उम्र 25 साल है. मैं एक इंजीनियर हूं और खुद का बिजनेस करता हूं. मैं दिखने में अच्छा लड़का हूं एवरेज बॉडी है और सीधा साधा लड़का हूं.  मुझे ज्यादा बाते करना पसंद नहीं हे.

अब में आप को मेरी एक दोस्त के बारे में बताता हूं, उसका नाम  मनाली है, वह लगभग मेरे ही उम्र की है, वह शायद मुज दे छोटी होगी पर दिखने में बहुत हॉट हे उसका स्किन टोन एकदम व्हाइट हे और सेक्सी बॉडी, नाइस गांड, अट्रेक्टिव मतलब बिल्कुल मैरिज मटेरियल जैसी दिखती है. उसे देख कर ऐसा लगता है कि वह सिर्फ मेरे लिए बनी है तो अब आते हैं चुदाई स्टोरी पर.

बात तब की है जब उस की शादी को २ साल हो गए थे और उसकी और मेरी फ्रेंडशिप समझो ७-८ साल पुरानी है, वैसे मैं उसे बहुत लाइक भी करता था और उस चीज का मैंने उसको कई बार जिक्र भी किया है, पर वह यह सब चीजों में तब इतना इंटरेस्ट नहीं रखती थी. उसके और मेरे बीच में ऐसी कोई भी बात नहीं थी कि वह हम शेयर ना करते थे. हम अपने मन की हर एक बात एक दुसरे के साथ एकदम आराम से शेयर करते थे और हमे एक दुसरे पर पूरा भरोसा भी था.

loading...

तो उस दिन से पहले भी उसने मुझे उसके प्रॉब्लम बताया था कि उसका और उसके हस्बैंड का आज कल बहुत झगड़ा चल रहा है तो मैंने पूछा क्यों? तो उसने कहा कि हम लोग बेबी के लिए चांस ले रहे हैं, लेकिन कुछ प्रॉब्लम की वजह से सक्सेस नहीं हो रहा है, तो मैंने कहा कि डॉक्टर को दिखाओ कुछ तो सलूशन मिलेगा. तो वह बोली कि बहुत डॉक्टर दिखा चुके हैं, कुछ नहीं हो रहा है. मुझे बच्चा नहीं हो रहा हे उसके कारण मेरे हसबैंड और ससुराल वाले मुझे ही ब्लेम कर रहे हैं और वह मेरे सामने रोने लगी. तो मैंने उस को कहा की मेरा एक फ्रेंड डॉक्टर है उसका नाम उसे बताया तो वह अपने हस्बैंड को लेकर गई वहां पर चली गयी और उसने बहोत सरे टेस्ट करवाए. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

फिर २ दिन बाद उसके मोम का मुझे फोन आया कि  अंकुश बेटा जरा अभी घर आना तो तो में उसके घर पर चला गया.

वहां पहुंचा तो घर में सिर्फ मनाली और उसकी मम्मी ही थे. वैसे आपको बता दूं कि उस की मम्मी भी बहुत ही सेक्सी माल है. उसकी बोडी भी किसी हसीना को मार दे ऐसी हे और वह भी हर रोज मेहनत करती हे. मैं अंदर गया तो मनाली उदास होकर सोफे पर बैठी थी उसने पिंक कलर की साड़ी पहनी थी उसमें वह बहुत हॉट दिख रही थी. अब घर में थी तो उसकी साडी का पल्लू जरा नीचे हो गया था, उसका क्लीवेज साफ दिख रहा था, मैं वहीं देखते उसके सामने बैठ गया. फिर उसकी मां आई मेरे बाजू में बैठी और हाल चाल पूछा फिर मैंने पूछा.

मैंने कहा : क्या हुआ आंटी आपने मुजे ऐसे अचानक क्यों बुलाया हे?

मां ने : कहा बेटा अब तक हम ने तुम से कुछ छुपाया नहीं है, तो आज भी खुल कर बताती हूं, मनाली अब रोने लगी थी वह यह कि तुमने जो डॉक्टर बोले उनके पास भी यह गए अच्छे डॉक्टर है. वहां उन्होंने सब टेस्ट करवाएं उसमें उसके हसबैंड का जो स्पर्म है उसके काउंट कम बताया, उसमें कोई ह्रार्मोनल  प्रॉब्लम है बताया, सो जिस वजह से उनकी वजह से मेरी बेटी प्रेग्नेंट नहीं हो सकती, बस यह सुनते ही मनाली के हस्बैंड ने उससे बहुत झगड़ा किया और फिर यह यहां चली आई.

मैंने कहा : तो अब क्या करें? मैं भी थोड़ा सोचने लग लगा.

मां ने कहा : बेटा तुम बुरा ना मानो तो मेरी बात सुनो, अब तुम ही मेरी बेटी की हेल्प कर सकते हो. तुम उसे उसकी ख़ुशी दिला सकते हो.

मैंने कहा : मैं कुछ समझा नहीं आंटी.

(मैं समझ तो सब गया था और मन ही मन खुश भी हो गया था)

आंटी कुछ बोलती उतने में मनाली उठी और मेरे पास आइ, मेरा हाथ पकड़ा और मुझे दूसरे रुम में लेकर गई. मैं तो एकदम शोक्ड हो गया यह सब चल क्या रहा है? उसने मुझे अंदर लीया और दरवाजा बंद किया, और मुझे देखने लगी और बोली

मनाली ने कहा : याद है वह दिन जिस दिन तुम ने मुझे प्रपोज किया था और कहा कि मुझे लाइफ में एक बार तुम्हारे यह स्वीट रसीले लिप चुमने हैं, अंकुश आज मैं तुम्हारी सारी इच्छाएं पूरी कर दूंगी बस मुझे तुम मां बना दो.

आई लव यू अंकुश आज से मैं तन मन से तुम्हारी हूं, सिर्फ मेरी एक विश पूरी कर दो. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

और उसने तुरंत उस के लिप्स मेरे लिप्स पर रख दिए और मैं साथ में आसमान में था, मेरा सपना पूरा हुआ था, हम एक दूसरे को १० मिनट तक चूसते रहे पागलों की तरह. वह बार बार एक ही बोले जा रही थी आई लव यू अंकुश.

उतने में उस के मोम ने दरवाजा बजाया, फिर हम संभल गए और वह मुझ से अलग हुई और दरवाजा खोला.

मॉम ने कहा : क्या हुआ मान भी गया कि नहीं यह?

मनाली ने कहा : हां मोम वह तैयार है.

मोम ने कहा : तो एक काम करो, यह कुछ पैसे रख लो और दोनों पांच छह दिन कहीं घूम आओ, तुम्हारा काम भी होगा और मनाली का मूड भी ठीक होगा.

दोस्तों यह सुन कर तो मानो मैं तो समझ लो की खुशि के मारे एकदम पागल हो गया था.

फिर हम निकले तो स्लीपर बस से ट्रेवल करना था, हमने गोवा जाने का डिसाइड किया था. तो रात को बस में बैठे, मनाली ने एक टाइट जांघ तक आए ऐसा टॉप पहना था, और नीचे शॉर्ट्स पहनी थी. मैं भी शॉर्ट और टी शर्ट में था. जैसे गाड़ी चली वो और मैं अपने कंपार्टमेंट में लेट गये और बाते करने लगे. हम ने थोड़ी देर तक बहोत बाते की और बातें करते करते उसे नींद लग गई, लेकिन मुझे कहां नींद आ रही थी? मैं तो बस उसे ही देखता रहा कि यह आज जो मेरे साथ हे वह  सपना है या सच?

वह मेरी और पीठ कर के सोई हुई थी, मुझे उस के गांड की लाइन साफ दिख रही थी. उसके कपडे नींद में बिखर गए थे तो मेरा लंड खड़ा होने लगा, पर मैं थोड़ा शर्मिला टाइप का इंसान हूं, अभी भी थोड़ा डर रहा था डायरेक्ट सेक्स करने को. तो उसके गांड को लंड से टच किया थोड़ी देर सहलाया वापिस पीछे ले लिया.

जब मैं पीछे हुआ तो वह पीछे मुड़ी और मेरी और देखा, और मेरा हाथ सीधा उस के बूब्स पर रखा और बोली

मनाली ने कहा : मैंने तुमसे कहा ना कि मैं अब पूरी तरह से तुम्हारी हूं, तुम जब जहां चाहो, जैसे चाहो वैसे जो करोगे मैं तुम्हारा साथ दूंगी.

बस फिर मैं वैसे ही बस में ही उसके उस पर टूट पड़ा उसके लिप्स पकड़ लिए और स्मूच करने लगा. एक हाथ से उसके सेक्सी बूब्स प्रेस करने लगा, वह भी खुल कर मेरा साथ दे रही थी. उसने मेरे कपड़े निकलना शुरु किया. मैंने भी उसे पूरा नंगा कर दिया.

उसे मैं अपनी जिंदगी में पहली बार एकदम नंगा देख रहा था, वह बहुत ही सेक्सी लग रही थी. मैं पागलों की तरह उसकी बॉडी पर हर जगह चूमने लगा, वह आह ओह हहह होह उऔउ नह्ह इह्ह्म्म हहह औऔ ईस अह्ह्ह औऊ अह्ह्ह ओह्ह्ह  अह्ह्ह आ कर के मोनिंग करने लगी थी.

फिर उसने मेरा लंड मुंह में लिया और बोली तुम्हारी तरह तुम्हारा लंड भी मस्त है हेल्दी और मोटा.

मैंने कहा : तो फिर देर ना करो, जल्दी चूसो मेरी जान. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

और वह पागल हो कर ब्लॉजॉब करने लगी. फिर हम 69 की पोजीशन में आ गए मैं उसकी चूत लिक कर रहा था. वह अब साथ दे रही थी, बीच बीच में मैं उसकी गांड पर जोर से फटके मार रहा था, उससे वह और भी एक्साइट हो रही थी.

फिर मैंने उसे ठीक से लेटाया, उसकी चूत में उंगली डाल कर जोर से हिलाने लगा, वह चिल्ला उठी और बोली.

मनाली ने कहा : बस अब अपना लंड अंदर कर दो, इनका मिला दो जल्दी.

loading...

और मैंने झट से उसके पैर को उठाया और लंड चूत पर रखा और धक्का दिया और जोर से धक्का देना चालू किया. वह अहः ओह हहह ओह हहह उन्न्न्न हहह ओह्ह हहह कर रही थी. फिर २० मिनिट बाद हम जड गये सारा माल मेने उसकी चूत में छोड़ दिया और उसके चेहरे पर खुशी मुझे दिखी. मैंने पूछा कि यह इतनी अचानक से खुशी कैसे हुई?

मनाली ने कहा : आज से पहले ऐसे समझ लो मैं कुंवारी ही थी, मैंने कभी ऐसा सेक्स नहीं किया, वह मेरा पति बस साड़ी उठाता अंदर डालता और हिला के सो जाता था, रियली अंकुश आज तुमने मुझे एक औरत बना दिया, आई रियली लव यू, आज के बाद मैं सिर्फ तुम्हारी हूं.

फिर मैंने उसे बस में बहुत चोदा. सुबह होने तक हमारा और एक सेशन हो गया और पूरा गोवा में हमने दिन रात सिर्फ अलग अलग तरीके से चुदाई की और उसका नतीजा आज उस को एक बेबी गर्ल है. आज भी हम मिलकर चुदाई करते हैं उसके मायके में मॉम के सामने रुम में जाकर. यह मेरा एकदम सच्चा अनुभव है दोस्तों प्लीज रिप्लाई करना जरूर और अगले पार्ट में में आपको बताऊंगा कैसे मैंने उसकी मां को भी चोदा.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story