Home / Aunty / पैसेवाली आंटी मुझे कार में लेकर गयी और दारू पीकर खूब चुदी

पैसेवाली आंटी मुझे कार में लेकर गयी और दारू पीकर खूब चुदी

new sexy stories मेरा नाम प्रेम है और मैं दिल्ली (फरीदाबाद) का रहने वाला हूं मेरी हाइट ५.६ इंच है और रंग गोरा है मेरा लंड 8 इंच का है अगर कोई आंटी या गर्ल को सेक्स में इंटरेस्ट हो तो प्लीज मुझे मेल करें. बचपन से मुझे शादीशुदा लेडिज बहुत पसंद है. जब भी मैं आपको देखता था तो उनको  देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता था. और मैं अपने घर जा कर में मुठ मारता था..

और आज मैं आपको अपनी सच्ची कहानी शेयर करने जा रहा हूं यह कहानी उस टाइम की है जब मैं 12वीं क्लास में एग्जाम दे रहा था. मेरा स्कूल मेरे घर से 30 मिनट की दूरी पर था और मुझे ऑटो पकड़ कर जाना पड़ता था. एक दिन में जब सुबह एग्जाम देने के लिए निकला तो ऑटो स्टैंड पर मुझे एक भी ऑटो नहीं मिला, क्योंकि उस दिन ऑटो वालों की हड़ताल थी उस दिन कोई भी ओटो नहीं चल रहा था और मैं लेट हो रहा था.

तभी एक bmw  कार वहां आकर रुकी, जब कार का डोर ओपन हुआ तो मैंने देखा एक बहुत स्मार्ट आंटी कार में थी वह मुझसे एड्रेस पूछने लगी तो मैने उनको एड्रेस बता दिया और बोला आंटी आज मेरा एग्जाम है और कोई ओटो भी नहीं मिल रहा है, क्या आप मुझे मेरे स्कुल पर ड्रॉप कर देंगी तो उसने हा कहा और मैं उनकी कार में बैठ गया. जैसे ही मैं कार के अंदर बैठा तो मुझे  सिगरेट कि स्मेल आ रही थी और बेक सिट पर एक मैजिक मोमेंटस की बोतल भी रखी हुई थी. आंटी मुझे मेरे बारे में पूछने लगी तो मैंने उन्हें सब बता दिया और मैं आंटी को देखे जा रहा था उनकी उमर 30 साल की लग रही थी उन्होंने वाइट टी-शर्ट और रेड कलर की लेगी  पहनी हुई थी उनकी बॉडी एकदम कटीली और उनकी रेड कलर की ब्रा साफ दिख रही थी यह देख कर मेरा लंड खड़ा हो रहा था.

loading...

मैं भी उनके बारे में पूछने लगा तो उन्होंने बताया कि वह  फरीदाबाद में रहती है और उसके हस्बैंड usa  में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है वह महीने में एक बार ही आते हैं यह सुनकर मैं आंटी के बारे में सोचने लगा आंटी ने बताया यहां मुझे कुछ काम है और मुझे आंटी ने पूछा तुम्हे कहां ड्रॉप करना है?

मैंने बोला आंटी मेरी स्कूल भी पास में ही है मुझे यहीं पर उतार दो मैं चला जाऊंगा. मैं कार से नीचे उतरने लगा तभी आंटी ने पूछा कि तुम घर कैसे जाओगे ऑटो तो चल नहीं रहे आंटी मुस्कुराते हुए बोली एग्जाम कब खत्म होगा मैंने बोला 12:00 बजे आंटी ने बोला ओके मैं तुम्हारा वेट करूंगी. यह सुनकर मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा मैंने ओके बोला और चला गया. जैसे ही मैं एग्जाम  दे कर आया तो देखा आंटी स्कूल के बाहर मेरा वेट कर रही थी आंटी ने पूछा एग्जाम कैसा हुआ मैंने बोला अच्छा हुआ और हम वहां से चल दिए. आंटी ने पूछा तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है मैंने बोला नहीं है. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

मैंने आंटी से पूछा आप अकेले ही रहती हो आपको डर नहीं लगता तु उन्होंने बताया ऐसा डरने वाली कोई बात ही नहीं है क्योंकि मेरे साथ मेरे दादा जी रहते हैं. मेरा स्टैंड आने वाला था तभी मैंने आपको बोला आंटी आपको कुछ काम हो तो प्लीज मुझे कॉल कर लेना यह मेरा नंबर है. आंटी ने नंबर लिया और चली गई. मैंने आंटी के फोन का वेट कर रहा था तभी 3 दिन के बाद आंटी की कॉल आई और बोला उनको कुछ काम है उन्होंने एड्रेस सेंड किया और मैं उनके घर पहुंच गया.

जैसे ही आंटी ने डोर ओपन किया तो मैंने देखा उसने रेड कलर का गाउन पहना हुआ था और उसमें उनके बूब्स और गांड अलग ही दिख रहे थे. यह देख कर मेरे दिल में धड़क धड़क होने लगी और मैं एक लंबी सांस लेकर अंदर चला गया. आंटी ने मुझे बोला कि उन्हें अपने बेडरूम का सामान दूसरे  रूम में शिफ्ट करना है.

मैंने पूछा दादा जी कहां पर हैं तो आंटी बोली कि वह बाहर गए हुए हैं शाम तक आएंगे. अब मैं और आंटी घर पर अकेले थे. अब हमने सामान दूसरे रुम में शिफ्ट करना शुरु कर दिया. तब आंटी और अलमीरा  से  अपने कपड़े निकाल रही थी तभी एक कंडोम का पैकेट और कुछ वियाग्रा की  पिल्स नीचे गिर गई मैंने पूछा आंटी यह क्या है तो आंटी बोली कुछ नहीं है सर दर्द की पिल्स हे. मैंने बोला आंटी मुझे भी एक पिल्स दे दो थोड़ा सर दुख रहा है मेरी बात सुनकर आंटी कुछ सोचने लगी और मुस्कुराते हुए बोला ठीक है ले लो मैं समझ गया था की आंटी आज चुदवाना चाहती है. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

फिर मैंने एक पिल्स ले ली. लेने के बाद मुझे अजीब सा नशा होने लगा जैसे आंटी नीचे झुकी उनकी गांड साफ दिख रही थी यह देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और आपको तो पता है वियाग्रा लेने के बाद तो कितना भी अपने लंड को शांत कर लो  बिना चोदे हुए शांत नहीं होता.

आंटी मेरे खड़े हुए लंड को छुप छुप कर देख रही थी. तभी आंटी का एकदम से पेर स्लिप हो गया और वह गिर गई मैंने आंटी को उठाया और बेड पर लिटा दिया. शायद आंटी के पैर में मोच आ गई थी इसलिए ज्यादा दर्द हो रहा था. मैंने बोला आंटी आप को मुव लगा देता हूं आंटी ने हां बोल दी.

मैंने मुव लगा दिया उसके बाद मुझे नींद आने लगी शायद पिल्स 100 मिलीग्राम की थी  और मैंने आंटी को बोला मुझे नींद आ रही है आंटी ने बोला ओके सो जाओ, आंटी भी मेरे साथ लेट गई और मुझे नींद आ गई.

कुछ देर बाद मुझे ऐसा लगा कोई मेरा लंड चूस रहा है मैंने अपनी आंखें खोली और देखा तो आंटी मेरा लंड चूस रही थी और मुझे ड्रिंक की स्मेल भी आ रही थी शायद आंटी ने ड्रिंक की थी मैंने आंटी को बोला, आंटी यह आप क्या कर रही हो? आंटी ने बोला मैंने बहुत दिनों से सेक्स नहीं किया है इसलिए आज तेरा खड़ा लंड देखकर मुझे रहा नहीं गया और आंटी ने जोर-जोर से लंड चूसना शुरू कर दिया ऐसा लग रहा था बहुत साल से प्यासी हो.

मैं आंटी के सर को पकड़ कर लंड को जोर जोर से उनके मुंह में धकेलने लगा. उसके बाद मैने आंटी को बेड पर बिठा दिया और उनके लिप्स को चूसने लगा उनके लिप्स रेड कलर के थे मुझे बहुत मजा आ रहा था और उनके बूब्स मेरी बॉडी को टच हो रहे थे.

अब मैं हाथों से उनके बूब्स दबा रहा था और लिप्स चूस रहा था और लिप्स चूस रहा था. अब मेरे चेस्ट पर आंटी किस करने लगी, मैंने उनका गाउन उतार दिया अब आंटी ब्रा और पेंटी में थी, मेरे हाथ कांप रहे थे और मेरा फेस एकदम गरम गरम होने लगा क्योंकि पहली बार किसी आंटी को ऐसे देखा था मुझसे रहा नहीं गया.

मैंने उनकी ब्रा उतार दी उनके निपल रेड पिंक कलर के थे मैंने निपल चूसना स्टार्ट कर दिया आंटी ने आंखें क्लोज कर दी और प्यार से बोल रही थी चूस लो आज जितना चूसना है यह सिर्फ तुम्हारे लिए है शायद आंटी को बहुत मजा आ रहा था.

loading...

मैं एक उनकी पेंटी के अंदर डाल कर उनकी चूत को सहला रहा था और दूसरे हाथ से बुब्स दबा रहा था मैंने उनकी पैंटी उतार दी. उन्होंने अपने हेयर रिमूव नहीं किए थे. मैं उनकी चूत को सहला रहा था आंटी से रहा नहीं गया और अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में डालने लगी. मैं भी कंट्रोल में नहीं था मैंने जैसे ही लंड चूत के अंदर डाला मुझे ऐसा लगा जैसे जन्नत मिल गई हो. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

मैं जोर-जोर से झटके मारने लगा आंटी जोर-जोर से चिल्ला रही थी और जोर से करो और जोर से प्लीज़ ज़ोर से करो आहाह्ह अ म्मम्म अह्ह्ह्ह औम्म्मम्म ओह्ह्ह्ह अयय्य्य्य येस्सस्सस्स चलो चलो आह्ह्ह अम्म्मम्म औम्म्म्म अहह्ह्ह येस्स्स्स  तुम्हारे अंदर जितना जोर है इतना जोर से करो 15 मिनट के बाद मैं और आंटी एक साथ जड़ गए. थोड़ी देर बाद हमने दोबारा चुदाई की और मैंने आंटी की गांड भी मारी. अब जब आंटी का मन करता हे वह मुझे बुला लेती है और हमें जब मन होता है तब चुदाई करते हैं.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story