Home / Hindi / पडोसी लड़की की गांड दबाने लगा

पडोसी लड़की की गांड दबाने लगा

दोस्तों मेरा नाम जुगनू है, मैं राजकोट गुजरात से हूं, और यह इस साइट पर मेरी पहली कहानी है, यह कहानी मेरी और मेरी पड़ोस की लड़की शीला के बीच की हे. कुछ दिन पहले हुई है. मेरी हाइट ६ फुट है मेरे लंड का साइज ७ इंच है. मैं दिखने में हैंडसम हूं और मेरे मैं सेक्स की भूख बहुत है.

शीला हमारे पडोसी की लड़की है और उसकी शादी हो गई है. उसका उसका फिगर ३४-३०-३६ है. वह बहुत गोरी है उसको देख कर कोई भी चोदना चाहेगा.

अब में स्टोरी पर आता हूं, शीला का और उसके हस्बेंड के साथ झगड़ा हो गया तो वह यहां अपनी मां के घर आ गई और वो डाइवोर्स लेने वाली है, उसका बेटा उसके हस्बैंड के पास है. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम जब से वो आई थी तब से उसे चोदने का प्लान बना रहा था, कुछ हो नहीं सका तो मैं मुट्ठ मार लेता था, एक दिन हमारे दूसरे पड़ोसी के यहां गणेश विसर्जन में जाना था तो मैं गया तो देखा कि वह भी आई है, हम सब बस में बैठ गए पर हमें खड़ा रहना पड़ा, मैं जानबूझकर उसके पीछे खड़ा हो गया, उसकी गांड देख कर मेरा खड़ा हो गया, मैं उसे उसकी गांड की दरार में दबाने लगा.

loading...

उसने कुछ भी नहीं कहा तो मेरी हिम्मत बढ़ी तो मैं जोर लगाने लगा, तो उस की सिसकारी निकल गई, उसने पीछे देखा और नोटी सी स्माइल दी, मैं समझ गया मामला क्लियर है पर उस दिन ज्यादा कुछ नहीं हो पाया, मैं मौके की तलाश में था ऐसे ही १५ दिन बीत गए.

फिर मुझे वह मौका मिल ही गया, एक दिन मैं सुबह उठ कर आया तो देखा उसकी मम्मी आई हुई थी, उन्होंने कहा हम सब गाँव जा रहे हे और शिला नहीं आ रही है. तुम हमारे घर रात को सोने जाना, मेरी तो लॉटरी लग गई, मैं रात का इंतजार करने लगा.

रात को खाना खाकर उसके घर गया, उसने दरवाजा खोला, उसने काले कलर की नाइटी पहन रखी थी, वह क्या माल लग रही थी? मैं तो सोचा अभी टूट पडू फिर कंट्रोल किया और अंदर चला गया.

उसने दरवाजा बंद किया और अंदर चली गई, उसने मुझे खाना ऑफर किया मैंने कहा मैं खाना खा कर आया हूं, और हम टीवी  देखने लगे, मैंने उसके हस्बैंड के बारे में पूछा तो वह रोने लगी और बोली कोई और बात करो, तो मैं सोचने लगा इतने में उसने पूछा.

तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या?

मैंने कहा : एक भी नहीं हे.

उसने कहा : झूठ मत बोलो तुम इतने हैंडसम हो और गर्लफ्रेंड नहीं है.

मैंने कहा : नहीं कोई मिली ही नहीं.

उसने कहा : तभी तुम उस दिन बस में मेरे पीछे रगड़ रहे थे अपना लोड़ा.

उसके मुंह यह सुन कर मेरा तो खड़ा हो गया, उसने मेरे लंड पर हाथ रख दिया और मैं उसे किस करने लगा, वह भी मेरा साथ दे रही थी उसके बाद में वह रुकी और कहा की हम बेड रुम में चलते हैं.

बेडरूम में जाते ही हम फिर से किसीग करने लगे और मैंने उसकी ब्लैक नाइटी भी उतार दी, उसने ब्रा और पेंटी भी ब्लैक कलर की पहनी थी, थोड़ी देर बाद मेंने उसके बूब्स चूसना शुरू कर दिया, क्या मस्त बूब्स थे उसके, बेटा छोटा था तो उससे मिल्क भी आ रहा था, बहुत मजा आया.

करीब १० मिनट बाद मैं नीचे बढा, उसकी पैंटी की ओर मेने पैंटी एक झटके में निकाल दी, उसकी चूत गीली हो गई थी, उसकी चूत में मैंने एक उंगली को डाला सही में बहुत टाइट थी, उसने कहा जब से बच्चा हुआ तब से नहीं किया करीब २  साल से नहीं किया हे. जल्दी इसको फाड़ दे मेरे राजा अब नहीं रहा जाता.

इतने में मैंने उसकी चूत पर अपना मुंह लगाया वह आह ओह्ह हहह ओह हहह उम्म्म एस अह्ह्ह ओइह हहह इह्ह अह्ह्ह ओह्ह अम्म्म सिसकारी लेने लगी, धीरे धीरे मैंने दो उंगली चूत में डाल दी, थोड़ी देर बाद वह अकड़ने लगी और मेरे सर को दबाने लगी और वह जड गई मैं सारा पानी पी गया.

फिर मैंने उसको कहा चलो अब तुम्हारी बारी वह घुटनों के बल बैठ गई और मेरी शॉर्ट जो टेंट बन गई थी उसे नीचे किया वह तो देखती ही रह गई और बोली इतना बड़ा मेरे पति का भी इससे छोटा है और चूसने लगी. वह लंड चूसने में एक्सपर्ट थी मानो जैसे कोई पोर्न स्टार हो. करीब १५ मिनट की चुसाई के बाद मेरा हो गया, मेरा सारा माल उसने मुंह में ले लिया और पी गई.

और उसने हिला हिला कर मेरा लंड फिर से खड़ा कर दिया और बोली मेरे राजा अब बर्दाश्त नहीं होता जल्दी चोदो मुझे और बूजाओ मेरी आग.

मेने उसे बेड पर लेटाया और उसके पैर मेरे कंधो पर रख दिए, फिर मेरे लंड को उसकी चूत पर रगड़ के धक्का मारा, मेरा टोपा घुस गया. वह बड़ी जोर से सिसकारी लेने लगी, मेरे राजा धीरे करो, मैं कहां सुनने वाला था, मैंने जोर जोर से धक्का मारा और पूरा लंड अंदर चला गया, वो सिसकारियां ले रही थी.

थोड़ी देर बाद वह ऊपर नीचे होने लगी मैं समझ गया और धक्के मारने लगा, करीब २० मिनट में वो झड़ गई, फिर मैंने उसे पोजीशन चेंज करने को बोला तो वह मान गई फिर उसे घोड़ी बना के पीछे से पूरी रफ्तार से उसकी चूत मारने लगा. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम करीब १५ मिनट के बाद वह फिर से जड गई और मेरा भी होने वाला था तो मैंने पूछा कहां निकालूं? तो उसने कहा अंदर मत निकालना मेरे बूब्स पर निकाल दो, फिर मैंने उसे सीधा किया और उसके बूब्स पर सारा माल निकाल दिया, उसने चूस के मेरा लंड साफ कर दिया.

loading...

फिर वह बाथरुम में जाने लगी और मैं भी पीछे पीछे चला गया, हम दोनों साथ में नहाए एक दूसरे को साफ किया और रूम में आकर नंगे ही एक दूसरे के साथ लिपट कर सो गए.

यह सिलसिला ५  दिन तक चला जब तक उसके मम्मी पापा आए नहीं गांव से, यह मेरी पहली स्टोरी अगर कोई मिस्टेक दिखे तो जरूर बताना.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story