Home / Aunty / पड़ोसन चाची बाथरूम में खड़े खड़े चुद गयी

पड़ोसन चाची बाथरूम में खड़े खड़े चुद गयी

हेलो दोस्तों मेरा नाम समर है और मैं बंसवारा का रहने वाला हूं. मेरी ऊंचाई ५ फुट ४ इंच है और मेरा रंग गोरा है. मैं हर रोज एक्सरसाइज करता हूं तो बॉडी एकदम फिट है. मेरे  लंड का साइज नॉर्मल है जो किसी भी उम्र की लड़की या आंटी को पूरी तरह से सेटिसफाइड कर सकता है. यह चुदाई स्टोरी मेरे पड़ोस में रहने वाली चाची की है उनकी शादी को अभी २ साल हुए हैं और एक बेटा भी है.

चाची का फिगर ३०-२८-३२ हे और दिखने में मस्त माल लगती है. उनकी शादी में जब मैंने पहली बार देखा तो मैं उसका दीवाना हो गया था. चाची से मेरी अच्छी पटती थी और हम हमेशा मजाक मस्ती किया करते थे. जब भी वह तैयार होकर कही जाती थी तो मुझसे पूछती थी कि कैसी लग रही हूं. तो मैं भी बोल देता था की मस्त लग रही हो. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम एक दिन रात को मैंने चाची के नंबर पर मेसेज किया कोई रिप्लाई नहीं आया. फिर सुबह जब चाची से मिला तब चाची ने मेसेज के बारे में पूछा तो मैंने बात को टालते हुए कहा कि बस नींद नहीं आ रही थी तो आपसे बात करने के लिए किया था. तो बस फिर क्या चाची और मेरी बातें अब मेसेज से होने लगी. हम रात रात भर मेसेज  से बातें करने लगे. धीरे धीरे चाची को भी यह एहसास हो गया कि मैं उनको पसंद करता हूं शायद वह भी मुझे पसंद करने लगी थी.

उस दिन के बाद चाची मुझसे खुलकर बातें करने लगी और कभी कभी तो सेक्स चैट भी करने लगे.

loading...

एक दिन चाची ने मुझसे पूछा लीया कि मैं उनसे क्या चाहता हूं? तो मैंने ज्यादा ना मांगते हुए बस एक किस करने का बोला. तो चाची मान गई और अकेले होने पर किस देने का प्रॉमिस किया. उसके बाद में उनके अकेले होने का इंतजार करने लगा और वह दिन भी जल्दी ही आ गया उस दिन चाची के घरवाले किसी शादी पर जाने वाले थे और घर पर चाची अकेली थी. उन्होंने बीमार होने का बहाना कर घर पर ही रुक गई थी.

चाची ने मुझ से मेसेज किया और मैं उनके घर पहुंच गया चाची  बिस्तर पर लेटी हुई थी. मैं सीधा उन के बेड रूम में गया और उनके ऊपर लेट गया और किस करने लगा. चाची भी मेरा साथ दे रही थी मेरा लंड खड़ा हो गया था जो चाची को उनकी चूत पर लग रहा था. कुछ देर बाद में खड़ा हो गया चाची मेरे खड़े लंड को देख रही थी और मुझसे वापस अपने ऊपर गिरा दिया और फिर किस करने लगी. पता नहीं वह क्या चाहती थी?

मैं भी उनके बोबे को दबाने लगा जिससे चाची को और मजा आने लगा. मैंने चाची से पूछा कुछ और चाहिए क्या? तो वह हंसने लगी मैं समझ गया कि चाची मुझसे चुदवाना चाहती है, पर मैंने उस वक्त कुछ नहीं किया क्योंकि मुझे कुछ काम से बाहर जाना था.

फिर मैं वहां से चला गया रात को चाची का मेसेज आया और पूछने लगी चले क्यों गए? तो मैंने बोला किस की बात की थी तो बस चला आया. तब चाची ने बोला कि उनको मेरे साथ सोना है मतलब उनको मेरे साथ चुदाई करनी है. मैंने बोला चलो अभी कर लेते हैं पीछे के बाथरूम में जाकर, कुछ ना नुकुर के बाद वह रेडी हो गई. में उठ कर उनके घर के पीछे बने बाथरुम में चला गया कुछ देर इंतजार करने के बाद चाची भी वहां आ गई.

चाची ने अंदर आकर दरवाजा लॉक कर दिया. फिर मैंने चाची को बाहों में भर लिया और किस करने लगा. चाची भी मुझे किस करने लगी. कभी मैं अपनी जुबान उनके मुंह में डालता तो कभी वह डालती. बहुत मुझे मजा आ रहा था फिर मैंने चाची के ब्लाउज के बटन खोल दिए उन्होंने ब्रा नहीं पहनी थी. मैं उनके बोबे को दबाने लगा चाची भी मदहोश होकर आह ओह्ह अहह ओह्ह अहह ओह्ह एस करने लगी.

फिर मैं उनके बोबे को चूसने लगा चाची मेरे लंड को सहलाने लगी और मेरे लोवर को खोल कर उसे बाहर निकाल लिया फिर मुठ मारने लगी. मुझे अच्छा लग रहा था. मैंने चाची को मुंह में लेने को कहा तो वह ना बोलने लगी मेरे जोर करने पर वह मान गई और मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी. कुछ देर बाद मैंने चाची को खड़ा किया और उनका पेटीकोट ऊपर कर दीया. उन्होंने पैंटी नहीं पहनी थी इसलिए कि हमें प्रॉब्लम ना हो और हमारा काम आसान हो जाए.

मैं चाची की चूत को अपने मुंह में भर कर चाटने लगा. चाची अजीब सी आवाज निकालने लगी और जोर से समर खा जा मेरी चूत को और जोर से कर कहने लगी. जोर से चूसने इसका सारा पानी पी और चाची का पानी निकल गया उसका स्वाद बहुत अजीब था नमकीन था. फिर मैं खड़ा हुआ और चाची को आगे की ओर झुका कर उनका पेटीकोट ऊपर कर दिया. फिर मैंने लंड को उनकी चूत पर लगाया और धीरे से धक्का लगाया. पूरा का पूरा लंड की चूत में चला गया इस पोजीशन में चाची को थोड़ा दर्द भी हो रहा था. पर वह मजे से मेरे लंड को अपनी चूत में निगल रही थी. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम

फिर मैं भी लंड को अंदर बाहर करने लगा. चाची आह ओह्ह अहह ओह्ह औउ ओह्ह आवाजें करने लगी. कुछ देर बाद चाची अकड़ गई और उनका पानी निकल गया. पर मेरा लंड अभी भी कड़क था. चाची को अब चूत में लग रहा था और वह बोल रही थी बस करो अब तो और नहीं सहा जाता. पर मैं कहां मानने वाला था? मेने उनकी कमर को दबाकर पकड़ लिया और जोर जोर से धक्के लगाने लगा चाची दर्द से कराह रही थी.

loading...

कुछ देर बाद मेरे लंड ने भी जवाब दे दिया और मैं आंटी की चूत में ही अपना सारा माल निकाल दिया. मेरे गर्म माल गिरने से चाची भी दूसरी बार जड गई थी. हम दोनों शांत हो गए और मैं चाची को किस करने लगा. देसी पोर्न स्टोरी डॉट कॉम  फिर हम दोनों चले गए और सो गए थे. सुबह जब मैंने चाची को देखा तो उनके फेस पर एक सुकून सा दिखा और मैंने उनको मस्ती में पूछ लिया कि चाची कैसी हो? और चूत के क्या हाल है? तो चाची ने बताया कि बहुत मजा आया पर चूत थोड़ी सूज गई है, एक बार और करना पड़ेगा इसको ठीक करने के लिए. मैंने भी हंस कर हां कर दिया. उसके बाद जब भी मौका मिला हमने खूब चुदाई की.

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story, Antarvasna Sex Stories