Home / Aunty / चुदाई की प्यासी आंटी ने बाथरूम में मेरा लंड चूसा Part 2

चुदाई की प्यासी आंटी ने बाथरूम में मेरा लंड चूसा Part 2

HINDI SEX KAHANI मैं नंगा दौड़ता हुआ आंटी के कमरे में जार कर बेड पर लेट गया पीछे पीछे आंटी गांड हिलाते हुए आयी और मेरे ऊपर चढ़ गयी और मुझे चाटने लगी धीरे धीरे निचे गयी और मेरे लंड का लॉलीपॉप बनाकर चूसने लगी। मेरा बुखार पूरी तरह से ठीक हो गया था मैं पहले जैसा फील कर रहा था ये चुदाई की प्यास या फिर नहाने की वजह से हुआ था।

आंटी मुझे बेड से उठा कर खुद लेट गयी और बोली चल मेरे राजा अपनी रानी की चूत चाट, मैं आंटी की चिकनी चुत को चाटने लगा थोड़ी देर चाटने के बाद आंटी बोली अभी मुझ से रहा नहीं जा रहा जल्दी से लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोद। इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम
मैं आंटी की चूत पर लंड रख कर धीरे से अंदर धकेला और लंड आधा चूत में चला गया आंटी की चूत टाइट थी मैं एक धीरे से झटका दिया और लंड पूरा अंदर चला गया। आंटी की चूत बहोत गरम थी। आज मुझे पहली बार चोदने का मौका मिला था, मैं आंटी के ऊपर लेट गया और धीरे धीरे अपनी गांड हिला कर आंटी की चूत चोदने लगा।

आंटी के बड़े बड़े बूब्स मेरे सीने से दबे हुए थे और आंटी मेरी पीठ पकड़ कर मुझे जकड़ी हुई थी। मेरा जोश बढ़ा और मैं जोर जोर से धक्के मारने लगा, आंटी मुझे अपने दांतो से काटने लगी और जोश से अह्ह्ह अहह अहह ओह्ह ओह्ह उईईई उम्म्म्म उम्मम्मम अह्ह्ह्हह और तेज चोद चोद और चोद और चोद चोद चोद डाल अपनी आंटी को बोलने लगी। थोड़ी देर चोदने से आंटी की चूत से पानी निकलने लगा आंटी बोली रुक पोजीशन चेंज करते है आंटी मुझे लेटने को बोली और मेरे ऊपर चढ़ गयी। मैं आराम से लेट गया आंटी उछाल उछाल कर चूत में लंड लिए चुदवा रही थी आंटी के बूब्स उछल रहे थे मैं बूब्स को दोनों हाथ में पकड़ कर दबाने लगा और आंटी की गांड पर नाख़ून गाड़ा दिया।

loading...

आंटी मेरे ऊपर झुक गयी और बूब्स मेरे मुँह में डाल कर बोली निचे से धक्के दे माधरचोद , आंटी के मुँह से गाली मैं पहली बार सुना था मुझे और जोश बढ़ गया मैं भी गले देते हुए बोला हां मेरी रांड आज तेरी चूत की सारी खुजली मिटा दूंगा, साली रंडी देख कैसे गांड मारता हूँ तेरी।  इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम
मैं आंटी को घोड़ी बना कर उनकी गांड में तेल की बोतल से तेल भर दिया और पूरा लंड एक बार में जोर के धक्के से अंदर चला गया, आंटी बोली माधरचोद मेरी गांड चूत सब की सील खुली हुई है तू बस आराम से चोद मुझे। मैं आंटी की टाइट गांड में जोर जोर से धक्के मार रहा था तभी मेरा लंड झड़ने वाला था मैं लंड निकाल कर आंटी की चूत में डाल दिया और 4-5 धक्के के बाद उनकी चूत के अंदर ही झड़ गया। इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम

उस दिन अंकल के आने तक आंटी और मेरी 3 बार चुदाई पूरी हुई। मम्मी पापा के आने तक चुदाई ऐसे ही हर दिन होती रही, मम्मी घर आयी तो चुदाई का मौका मिलना बंद हो गया। अब जब मम्मी कभी किसी के घर पूजा या फिर किसी काम से बाहर जाती है, मैं और आंटी पागलों की तरह एक दूसरे पर टूट पड़ते है और पूरी मस्ती से नंगे हो कर चुदाई करते है।

loading...

Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi sex stories, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, desi sex story, Hindi sex, stories, story, hindi, indian, Sex Story, hindi sex kahani, desi Sex kahani, hindi sex story, hindi xxx story, sex kahani, sexy story, indian sex stories, indian sex story, Sex story, hindi sex, desi sex stories, xxx stories, Hindi sex, stories, story, indian, new sex indian story